घरेलू उपायछाती के बीच में दर्द होना upay के बारेमे जानिए

छाती के बीच में दर्द होना upay के बारेमे जानिए

छाती के बीच में दर्द होना upay छाती के बिच में दर्द होना ये बात हम कई बार लोगो के मुँह से सुनते है और कई लोगो को हमारे सामने होता हुआ देखते है छाती के बीच में दर्द होना hindi में देखा जाए तो छाती में दर्द होने की बात कोई आम बात नहीं है। ये दर्द अलग अलग प्रकार का होता है। कई बार ये दर्द एसिडिटी, हार्ड अटेक या कोई और वजह से होता है लेकिन जिस लोगो को यह समस्या होती है उन्हें इस समस्या को नज़रअंदाज नहीं करना चाहिए।

सीने में होने वाला दर्द अगर बढ़ जाए तो हमें सबसे पहले तो डॉक्टर को दिखाना चाहिए और उसकी सलाह लेनी चाहिए। सीने में दर्द के लिए टेबलेट डॉक्टर कहे तो वो भी करना चाहिए। सीने में हो रहे दर्द को रोकने के कई घरेलु उपाय भी लोग बताते है। अगर आपको लगातार यह दर्द उठता हो तो आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

छाती में भारीपन व दर्द यानी छाती में होने वाला दर्द सबको एक ही तरह का नहीं होता कई लोगो को दाई तरफ तो कई लोगो को बाई तरफ यह दर्द होता है। साइन का दर्द कई बार अचानक तेज देखने को मिलता है तो कई बार हल्का हल्का देखने को मिलता है।

छाती के बिच में अचानक दर्द अलग अलग वजह से होते है। छाती के बीच में दर्द होना क्या कारण है देखा जाए तो हार्ड अटैक, एन्जाइना, हार्ड की मांसपेशियों में रूकावट के कारन, दिल की रक्तवाहिनी में समस्या होने के कारन फेफड़ो में सूजन होने के कारन, सीने में दर्द होने के ऐसे कई कारन बताए जाते है।

सीने में दर्द होने के कारन

सीने में दर्द के कारण और उपाय में दिखाए गए अनुसा र सीने में तुलसी के पत्ते कहा जाता है की साइन के दर्द में तुलसी के पत्ते चबाने से साइन में होने वाल जलन, और साइन में होने वाली सूजन को मिटाया जा सकता है।

तुलसी का सेवन हम कई तरीको से कर सकते है। तुलसी के पत्तो को मुँह में चबाने से और तुलसी के पत्तो को चाय में डालकर उसका सेवन आसानी से कर सकते है।

कहा जाता है की शरीर में कुछ विटामिन की कमी से भी छाती में दर्द होना की संभावना रहती है। छाती में दर्द होने के और भी कारन है। शरीर में गैस होने से भी छाती में दर्द होने की संभावना रहती है। कई बार एसिडिटी रहने के कारन भी यह समस्या हो सकती है।

सीने में दर्द होने से हम कई लोगो के बताए गए उपाय सीने में दर्द का घरेलू इलाज के अनुसार हल्दी वाला दूध गरम करके पिने से छाती में होने वाला दर्द काम कर सकते है। और शरीर के अन्य दर्द काम कर सकते है। हल्दी वाले दूध में हल्दी में रहने वाले बैक्टेरियल लक्षण के कारन शरीर में होने वाले और साइन में होने वाले दर्द काम कर सकते है।

गैस के कारण छाती में दर्द का इलाज गरम पनिका सेवन करने से गैस थोड़ा काम हो सकता है। छाती में गैस के दर्द का इलाज शरीर में जल्दी से गैस की मात्रा न बढे यह ख्याल रखना चाहिए।

छाती में होने वाले दर्द को कम करने के लिआए हम सिकाई करने से भी उसे दूर कर सकते है। हमें शरीर में जिस हिस्से में दर्द हो उस पर हम सादे कपडे को थोड़ा गरम करके उसको शरीर के दर्द करने वाले भाग पर शिकाई करने से हम उस दर्द को काम कर सकते है।

छाती के आसपास होने वाले दर्द, शर्दी जुकाम से होने वाला सीने का दर्द हम गरम पानी पिने से कम कर सकते है। इसके साथ साथ इसका एक और भी उपाय बताया गए है। बादाम वाला दूध गर्म करके पिने से हम इस दर्द को कम कर सकते है। सीने

छाती के बीच में दर्द होना upay सीने में होने वाले दर्द कम करने के लिए गरम पानी में निम्बू उबाल कर उसे पिने से हम सीने के दर्द को थोड़ा कम यानि की उसमे राहत पा सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exclusive content

Latest article

More article